भू माफिया शिवसेना नेता द्वारा आरे की जमीन पर गैरकानूनी कब्जा, आरे बचाओ के नाम पर एक और धोखा

शिवसेना नेता दशरथ घाड़ी (मध्य मे)
शिवसेना नेता दशरथ घाड़ी (मध्य मे)

महाराष्ट्र की शिवसेना – काँग्रेस – राष्ट्रवादी सरकार मुंबई वासियों के साथ पर्यावरण बचाने के नाम पर किस तरह धोखा कर रही है, इस बात को मैनें अपने पिछले दो लेखों द्वारा साबित कर दिया था | यदि आपने वो लेख न पढे हो तो यह रहा उनका लिंक :

  1. आरे बचाओ के नाम पर मुंबई वासियों के साथ धोखा, शिवसेना नेता ने बनाया आरे को डम्पिंग ग्राउंड
  2. कांजुर मार्ग मुंबई में कनाकिया बिल्डर की मनमानी, रातों रात काटे सैकड़ों पेड़

इस लेख में मैं इसी बात के और सबूत देते हुए बताने जा रहा हूँ कि शिवसेना सरकार का इरादा आरे बचाना नहीं आरे हड़पना है | प्रस्तुत दोनों विडिओ को ध्यान से देखिए :

आरे के यूनिट क्र 19 मे जंगलों के बीचोंबीच पेड़ काटकर झोंपड़ों का निर्माण किया जा रहा है | इन झोंपड़ों को चोरी की बिजली और पानी का कनेक्शन भी मिल जाता है | इसके बाद इन झोंपड़ों को 15-20 लाख मे बेच दिया जाता है | आपको आरे के जंगलों मे इस तरह के नए-नए सैकड़ों झोंपड़े दिख जाएँगे | भूमाफिया / भरणीमाफिया शिवसेना नेता दशरथ घाड़ी खूँखार अपराधी सेल्वाकुमार और कन्नन चिन्ना दुराई के साथ मिलकर जोरों शोरों से इन गैरकानूनी झोंपड़ों का निर्माण कर रहा है और हर महीने करोड़ों रुपये कमा रहा है | इसी पैसे की ताकत है कि इस गैरकानूनी निर्माण को न वहाँ कि पुलिस रोकती है न आरे के मुख्य कार्यकारी अधिकारी | ऐसे दर्जनों विडिओ और फोटो है मेरे पास |

ऐसा नहीं है कि मुख्य कार्यकारी अधिकारी कुछ भी नहीं करते | उनको यह तो दिखाना है ही कि वो अपना काम कर रहे है | तो कभी-कभी इन झोंपड़ों को तोड़ने की कार्रवाई होती है लेकिन उसको आधा अधूरा तोड़ जाता है | दशरथ घाड़ी उन झोंपड़ों का पुनर्निर्माण कर फिर उन्हें बेच देते है | उसके बाद फिर कोई कार्रवाई नहीं होती | मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने पेपर पर दिखाने के लिए अपना काम भी कर लिया और जमीन बेचकर पैसे भी मिल गए | दोनों हाथ मे लड्डू | वैसे भी भूमाफिया / भरणीमाफिया शिवसेना नेता दशरथ घाड़ी पर कार्यवाही करने की हिम्मत कौन करे ? सत्ता शिवसेना की है |

कोई सोच सकता है कि इस गैरकानूनी निर्माण के समय पुलिस क्या कर रही है | मरोल पुलिस भी अपनी जिम्मेदारी अच्छे से निभा रही है | वो हर उस व्यक्ति को पुलिस स्टेशन बुला लेती है जो भूमाफिया / भरणीमाफिया शिवसेना नेता दशरथ घाड़ी के गैरकानूनी कार्यों  के खिलाफ आवाज उठाता है | पुलिस वहाँ होनेवाले गैरकानूनी डम्पिंग को , अवैध निर्माण को तो रोक नहीं पा रही है | न ही वो खूँखार अपराधी कन्नन को गिरफ्तार कर पा रही है | तो वो शिकायत करनेवाले का ही मुँह बंद करने मे भरोसा करती है |

आज के लिए इतना ही | ईभारत पढ़ते रहिए | मैं आगे भी आरे के जंगलों मे चलनेवाली इन गैरकानूनी गतिविधियों की जानकारी आपको देता रहूँगा  |