नौसेना का कुख्यात एवं चरित्रहीन सुरक्षा अधिकारी सुरेश अवस्थी कायरतापूर्वक डाकयार्ड कॉलोनी, कांजुर मार्ग छोड़कर भागा

suresh-awasthi

जैसा कि आप लोग में से ज्यादातर लोग जानते हैं कि डाकयार्ड कॉलोनी, कांजुर मार्ग, मुंबई का सुरक्षा रक्षक सुरेश अवस्थी पिछले कुछ दिनों से डाकयार्ड कॉलोनी के अपने कार्यालय में नहीं आ रहा है | नहीं आने का कारण यह दिया जा रहा है कि वह काफी बीमार चल रहा है | उसे पैरालिसिस का झटका आया है | इस झटके से उसे कोई नुकसान नहीं पहुँचा क्योंकि वह सही समय पर डॉक्टर के पास पहुँच गया | अब वो महीने भर आराम कर फिर कार्यालय आएगा |

पाठकों की जानकारी के लिए बता दूँ कि बीमार होने की पूरी कहानी झूठी है | अपने कुकर्मों के कारण सुरेश अवस्थी उर्फ़ आमचोर अवस्थी बहुत बुरी तरह फँस चूका है | उसके ऊपर एक के बाद एक तीन संगीन आरोप लगे हैं | जिसका विवरण निम्नलिखित है :

१) डाकयार्ड कॉलोनी के एक सुरक्षा रक्षक ने पुलिस में यह शिकायत की है कि सुरेश अवस्थी के उसकी पत्नी के साथ अवैध संबंध है | आमचोर अवस्थी ने उसकी पत्नी को गैरकानूनी रूप से डाकयार्ड कॉलोनी में रखा हुआ है | जब सुरक्षा रक्षक ने अवस्थी से इस बारे में पूछा तो आमचोर अवस्थी ने उसे जातिसूचक गाली दी | उसे गोली मार देने व टुकड़े-टुकड़े करने की धमकी दी | मामला पुलिस के पास पहुँचा है | सुरक्षा रक्षक की पत्नी ने पुलिस के सामने यह स्वीकार किया है कि वह गैरकानूनी रूप से डाकयार्ड कॉलोनी में रह रही है और आमचोर अवस्थी उसे सिक्योरिटी सुपरवाइजर शिवा के द्वारा पैसा पहुँचाता है |

२) महाराष्ट्र नगर में रहने वाले नाबालिग बच्चों को आमचोर अवस्थी ने बन्दूक दिखाकर धमकाया था | इसकी भी पुलिस में शिकायत हुई है |

३) जून ४ को डाकयार्ड कॉलोनी के गेट क्रमांक ३ पर एक पत्रकार को अपने साथ रखे तीन – चार गुंडों के साथ मिलकर मारा पीटा था | इस मामले की शिकायत भी पुलिस में हुई है |

तीनों भी मामले बहुत गंभीर है | तीनों में से एक में भी ऍफ़.आय.आर. हुई तो अवस्थी को जमानत तक नहीं मिलेगी | पुलिस ने ऍफ़.आय.आर. नहीं लिया तो न्यायालय जाकर ऍफ़.आय.आर. कराया जाएगा | अवस्थी यह बात जानता है | पुलिस भी उसे बार-बार पूछताछ के लिए बुला रही है | इन सबके अलावा अवस्थी को यह भी पता है कि उसके कुकर्मों की लिस्ट बहुत बड़ी है | उसकी और भी शिकायत हो सकती है | इतने नाबालिग बच्चों को अपने कार्यालय में बंद करके मारा है | बंदूक से गोली मारने की धमकी दी है | अब उसके सारे कुकर्म इकठा होकर उसे सजा देने के लिए उसके सिर पर मँडरा रहे हैं | इन सबसे बचने के लिए उसने बीमार पड़ने का झूठा नाटक किया है | भाग अवस्थी भाग – देखते हैं तू कहाँ तक भागेगा | आज नहीं तो कल क़ानून के हाथ तुझ तक पहुँचेंगे ही |

पुलिस अवस्थी को बचाने की कोशिश कर रही है किंतु जैसे-जैसे मामला संगीन होता जा रहा है वैसे-वैसे उन्होंने भी हाथ पीछे खींचना शुरू कर दिया है | नौसेना के कुछ अधिकारी अवस्थी को बचाने की जी-तोड़ कोशिश अब भी कर रहे हैं | मुझे उनका नाम नहीं पता लग पाया है | जैसे पता लगेगा, आप लोगों को भी बताऊँगा | आप लोगों में से किसीको भी यदि अवस्थी के कुकर्मों के बारे में पता है तो कृपया मुझे मेल कर जरूर बताएँ |

(यदि आप जानना चाहते हैं कि मैं सुरेश अवस्थी को आमचोर अवस्थी क्यों लिख रहा हूँ तो यह लेख जरूर पढ़े :  नौसेना प्रशासन की लापरवाही से डाकयार्ड कॉलोनी, कांजुरमार्ग, मुंबई में एक और मजदूर की मौत )

(पाठकगण : मुझसे संपर्क करने के लिए [email protected] पर मेल कर सकते हैं |)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *