ट्रस्टी शिवशंकर सिंह के कुकर्मों का नतीजा भुगतना पड़ रहा है भांडुप के रामकली विद्यामंदिर को, शिक्षा विभाग से मिली नोटिस

शिवशंकर शिवराम सिंह उर्फ़ पप्पी
शिवशंकर शिवराम सिंह उर्फ़ पप्पी

जब आदमी अपने दिमाग से सोचने के बजाय अपनी सनक से सारे निर्णय ले तो वही होता है जो फिलहाल रामकली विद्यामंदिर के ट्रस्टी शिवशंकर सिंह के साथ हो रहा है | शिवशंकर सिंह जो स्थानीय लोगों के बीच पप्पी के नाम से भी जाने जाते हैं, आजकल अपने अड़ियल रवैये और सनकी निर्णयों के कारण भांडुप में चर्चा का विषय बने हुए हैं |

मैं आपको बता दूँ कि रामकली देवी सम्मान सिंह विद्यामंदिर सर्वोदय नगर भांडुप पश्चिम मुंबई-७८ में स्थित एक छोटा सा स्कूल है | इसके ट्रस्टी हैं शिवशंकर शिवराम सिंह उर्फ़ पप्पी | कुछ वर्षों पूर्व तक ठीकठाक व्यक्ति हुआ करते थे लेकिन वर्त्तमान समय की आर्थिक परेशानियों ने इन्हें थोड़ा सा विक्षिप्त बना दिया है | कई जगह पैसा इन्वेस्ट किया था जो लगभग डूब गया है | बेचारे कर्ज के जाल में फँसे हुए हैं | कर्जदारों के तकाजों के कारण उनका पारा हमेशा चढ़ा रहता है | ऐसे में उनका सारा गुस्सा  उतरता है विद्यालय के स्टाफ पर | उन्हें परेशान करने का कोई मौका नहीं छोड़ते | इसी आदत के चलते विद्यालय की एक शिक्षिका ने परेशान होकर उनपर FIR भी करवा दिया है | फिर भी पप्पी जी में कोई सुधार नहीं आया है | इसके उलटे उनकी हिम्मत और बढ़ गयी है | अब वो स्कूल के लिए आये सरकारी आदेशों तक को नहीं मानते |

उदाहरण के तौर पर  २५ जून २०१८ को पदवीधर मतदारसंघ का चुनाव था | चुनाव के दिन विद्यालय में छुट्टी होती है ताकि शिक्षक जाकर अपना मत दे सके | खुद शिक्षा विभाग ने विद्यालयों को निर्देश जारी किया था कि उस दिन स्कूलों में छुट्टी दी जाए | लेकिन पप्पी जी को इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता | शिक्षा विभाग के निर्देशों को तो वो कुछ समझते ही नहीं | उन्होंने न विद्यालय में छुट्टी दी, न ही किसी शिक्षक को मतदान के लिए जाने दिया | शायद वो अपने इस ढीठ रवैये के बावजूद बच भी जाते | शिक्षा विभाग को इसका पता भी नहीं लगता लेकिन मनसे के डॉक्टर वेद तिवारी को जैसे ही इस बात का पता चला उन्होंने तुरंत इस बात की शिक्षा विभाग में शिकायत कर रामकली विद्यामंदिर पर  कठोर कार्रवाई की माँग कर दी | शिक्षा विभाग ने भी तुरंत हरकत में आते हुए विद्यालय प्रशासन को नोटिस जारी कर जवाब माँगा है | इससे विद्यालय प्रशासन में खलबली मची हुई है | उनसे जवाब देते नहीं बन रहा है |

रामकली विद्यामंदिर पिछले समय से गलत कारणों से भी सुर्ख़ियों में है | उसके एक विद्यार्थी की कॉलेज के गेट से निकालकर बीच सड़क पर चाकू से हत्या कर दी गयी | मामला काफी सुर्ख़ियों में  रहा था | इसके अलावा कॉलेज में गुंडागर्दी इतनी ज्यादा बढ़ गयी है कि पढ़ाई का माहौल रहा ही नहीं | हर तरफ अनुशासनहीनता है | ऐसा लगता है कॉलेज के विद्यार्थियों ने कॉलेज के ट्रस्टी से ही प्रेरणा ले रखी है | जब कॉलेज का ट्रस्टी शिवशंकर सिंह ही बदतमीज हो, नियमों की क़द्र नहीं करता हो तो बच्चे भी तो उसी रास्ते चलेंगे | अब ऐसे हालातों में वहाँ पढ़ाई भगवान भरोसे ही चल  रही है |

चलिए, आज के लिए इतना ही | पप्पी महोदय का बाकी गुणगान कभी और | तब तक प्रार्थना कीजिये की भगवान उनको सद्बुद्धि दे | मैं भी उनके लिए प्रार्थना करूँगा |             

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *