आरे बचाओ के नाम पर मुंबई वासियों के साथ धोखा, शिवसेना नेता ने बनाया आरे को डम्पिंग ग्राउंड

शिवसेना नेता दशरथ घाड़ी दुर्दांत, वांटेड और तड़ीपार अपराधियों सेल्वाकुमार (दाएँ से अंतिम) और कन्नन चिन्ना दुराई (बाएँ से अंतिम) के साथ
शिवसेना नेता दशरथ घाड़ी दुर्दांत, वांटेड और तड़ीपार अपराधियों सेल्वाकुमार (दाएँ से अंतिम) और कन्नन चिन्ना दुराई (बाएँ से अंतिम) के साथ

मुंबई के आरे मे बननेवाले मेट्रो के कारशेड को लेकर विवाद इतना बढ़ा कि प्रदेश की शिवसेना-काँग्रेस-राष्ट्रवादी सरकार ने मेट्रो कारशेड को आरे से हटाकर कांजूर मार्ग मे बनाने का निर्णय लिया है | इस प्रक्रिया मे आम जनता पर चार हजार करोड़ का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा | इससे आगे चलकर मेट्रो महँगा भी होगा और उसे बनाने मे कई वर्षों की देरी भी होगी | मेरे पहले लेख ” फिल्मसिटी को हाँ पर मेट्रो कारशेड को ना, आरे बचाओ के नाम पर समाज को गुमराह करने की कोशिश ” के द्वारा मैंने यह बताया था कि आरे बचाने के नाम पर किस तरह हम लोगों के साथ धोखा किया जा रहा है | इस लेख और आनेवाले कई लेखों द्वारा मैं इस बात को और भी स्पष्ट रूप से साबित कर दूँगा |

मुंबई मे जब भी किसी पुरानी इमारत को तोड़ा जाता है तो उसके मलबे को ठिकाने लगाना बिल्डर के लिए एक बड़ी समस्या रहती है | मलबे को ठिकाने लगाने की कानूनी प्रक्रिया काफी महँगी होती है | इसलिए बिल्डर भरनी माफिया के साह मिलकर, पुलिस और BMC कर्मचारियों को रिश्वत देकर कहीं न कहीं इमारत का मलबा गैरकानूनी तरीके से डम्प करा देता है | फिलहाल आरे के जंगल बिल्डरों के लिए डम्पिंग ग्राउंड बने हुए हैं |

प्रस्तुत विडियो को ध्यान से देखिये | यह चार दिन पहले रेकॉर्ड किया गया है | यह इलाका आरे का वो भाग है जो जोगेश्वरी विक्रोली लिंक रोड से जुड़ा हुआ है | इसमें आपको इमारतों का ढेर सारा मलबा दिख रहा होगा | यह मलबा रोज रात को ट्रकों में भरकर आता है और आरे मे डम्प कर दिया जाता है | आरे मे पचासों जगह पर आपको इस तरह के मलबे का ढेर दिखाई देगा | इस मलबे के कारण आरे के पेड़ पौधे तहस – नहस हो रहे हैं |
(जल्दी ही आरे के कुछ अन्य स्थानों के इसी तरह के विडियो अपलोड करूँगा और इस लेख मे जोड़ दूँगा |)

शिवसेना नेता दशरथ घाड़ी (मध्य मे) दुर्दांत, वांटेड और तड़ीपार अपराधियों सेल्वाकुमार (बाईं तरफ) और कन्नन चिन्ना दुराई (दायीं तरफ) के साथ
शिवसेना नेता दशरथ घाड़ी (मध्य मे) दुर्दांत, वांटेड और तड़ीपार अपराधियों सेल्वाकुमार (बाईं तरफ) और कन्नन चिन्ना दुराई (दायीं तरफ) के साथ

आरे मे होनेवाली इस गैरकानूनी डम्पिंग मे सेल्वाकुमार और कन्नन चिन्ना दुराई जैसे दुर्दांत, वांटेड और तड़ीपार अपराधियों का हाथ है | यह दोनों शिवसेना नेता दशरथ घाड़ी के इशारे पर आरे मे डम्पिंग कराते हैं | दशरथ घाड़ी शिवसेना के महाराष्ट्र राज्य माथाड़ी आणि जनरल कामगार सेना का संयुक्त सचिव है | उसके प्रभाव मे आकर स्थानीय पुलिस और आरे के पदाधिकारी मामले मे कोई कारवाई नहीं करते | कोई कारवाई नहीं करते ऐसा कहना सही नहीं है | जब भी कोई जागरूक नागरिक या पत्रकार मामले की शिकायत करते हैं तो एक केस दर्ज कर लिया जाता है | सेल्वाकुमार और कन्नन चिन्ना दुरई पर भी केस दर्ज हुए हैं पर डम्पिंग जैसे की तैसे चलती रहती है | वो कभी नहीं रुकती |

इस पूरे मामले से आप समझ जाइए कि आरे बचाने की सिर्फ नौटंकी हो रही है | आरे के जंगल अब भी नहीं बचेंगे लेकिन अब वो आम आदमी के काम नहीं आएगा | अब वो नेताओं की जेब भरकर नष्ट होगा | और डम्पिंग इकलौता मामला नहीं है | आनेवाले लेखों मे मैं कई और मामले बताऊंगा जो यह स्पष्ट कर देगा कि आरे को अंदर से खोखला करने की पूरी तैयारी हो चुकी है |

( लेखक : सुधीर सिंह, विक्रोली पश्चिम, मुंबई)

दुर्दांत, वांटेड और तड़ीपार अपराधी कन्नन चिन्ना दुराई
दुर्दांत, वांटेड और तड़ीपार अपराधी कन्नन चिन्ना दुराई
शिवसेना नेता दशरथ घाड़ी का महाराष्ट्र राज्य माथाड़ी आणि जनरल कामगार सेना के संयुक्त सचिव पद पर नियुक्ति
शिवसेना नेता दशरथ घाड़ी का महाराष्ट्र राज्य माथाड़ी आणि जनरल कामगार सेना के संयुक्त सचिव पद पर नियुक्ति

2 thoughts to “आरे बचाओ के नाम पर मुंबई वासियों के साथ धोखा, शिवसेना नेता ने बनाया आरे को डम्पिंग ग्राउंड”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *