एडमिरल सुपरिन्टेन्डेन्ट संजीव काले जी का भाषण या झूठ का पुलिंदा

community-hall-dockyard-colony
Picture taken from google images

कांजुर मार्ग डाकयार्ड कॉलोनी के एडमिरल सुपरिन्टेन्डेन्ट संजीव काले जी ( Rear Admiral Sanjeev Kale/ Admiral Superintendent Sanjeev Kale ) आज डाकयार्ड कॉलोनी आए थे | गणतंत्र दिवस के अवसर पर भाषण भी दिया | भाषण क्या था झूठ का पुलिंदा था | मुंबई में एक कहावत है — बोल बच्चन अमिताभ बच्चन | बस वही हाल था | मैं उनका उबाऊ भाषण एक कान से सुनकर दूसरे कान से निकाल रहा था | जो थोडा बहुत याद है उसमें से २-४ बातें आप लोगों के सामने रख रहा हूँ :

१) संजीव काले जी ने कहा कि नेवल डाकयार्ड मुंबई के कामगार सबसे बेहतर और सबसे मेहनती हैं |
यह तो बहुत अच्छी बात है | पर एक बात समझ नहीं आती कि इतने मेहनती और कुशल कामगारों के होते हुए नेवल डाकयार्ड प्रशासन सारा काम ठेकेदारों को क्यों सौंप रहा है ? प्रलय युद्धपोत को वेल्डिंग करते हुए ठेकेदार के आदमी ने ही जलाया न ? नेवल डाकयार्ड, मुंबई के पास वेल्डर नहीं हैं ? उन्हें खाली बिठाकर रखा है ठेकेदारों से काम कराकर नौसेना के अधिकारी मजे से मलाई खा रहे हैं |

२) संजीव काले जी के अनुसार वो डाकयार्ड कॉलोनी, कांजुर मार्ग में जो काम करा रहे हैं सब नियम के अंतर्गत रहकर करा रहे हैं |
सच ? जितना काम कराया उसमें से एक का भी टेंडर निकाला नहीं आपने | खेल-कूद अकादमी जो बना रहे हैं, वो तो आप अपने अंतरंग मित्र किरण मोरे को तोहफे में दे रहे हैं (पाठकों के लिए इस बारे में जल्दी ही विस्तार से लेख लिखूँगा )| कोई इन मामलों में सूचना के अधिकार के तहत (RTI) जानकारी माँगे, धैर्य के साथ सारे सबूत इकठ्ठा करे और न्यायालय का दरवाजा खटखटाए तो आपको सही सबक मिलेगा | मुझे पता है कि आप कई लोगों को धौंस दिखा चुके हैं कि — “मेरे पिता भी वकील थे”, पर वो धौंस कोई काम नहीं आएगा |

३) काले जी ने डाकयार्ड में हो रही दुर्घटनाओं का भी जिक्र किया और कहा कि वो इस बात पर नहीं जाएँगे कि दुर्घटना का जिम्मेदार कौन है |
आप यहाँ नहीं बताएँगे पर डाकयार्ड की रिपोर्टों में सारा ठीकरा सिविलियन्स पर फोड़ देंगे | यहाँ सिविलियन्स के सामने गोल-गोल मीठी बातें | कोई बात नहीं मैं आपको बता देता हूँ कि हर दुर्घटना के लिए आप और आपके जैसे नौसेना के दूसरे भ्रष्ट अधिकारी जिम्मेदार हैं |

४) काले जी ने भाषण में ट्यूशन क्लास का तथा सखी सेल का भी उल्लेख किया |
काले जी ( Rear Admiral Sanjeev Kale/ Admiral Superintendent Sanjeev Kale ) लगे हाथ यह भी बता देते कि उसमें आपके भ्रष्ट कमांडर रामचंद्र ने कितना पैसा खाया ? ( पाठकों के लिए इस बारे में बाद में विस्तार से पूरा लेख लिखूँगा |)

५) भाषण के दौरान काले जी ने बताया कि कोलोनी में जल्दी ही १२८ घर और जुड़ रहे हैं |
बहुत अच्छी बात है काले जी | पर जो दर्जन भर इमारतें सालों से बंद पड़ी है मरम्मत के नाम पर । उनका काम भी उसी गति से शुरू करवाइए जिस गति से आप अपने मित्र किरण मोरे जी के लिए खेल-कूद अकादमी का काम करवा रहे हैं | किरण मोरे जी का तो भला कर ही रहे हैं, लगे हाथ कामगारों का भी भला कर दीजिये | सब काम एक तरफ और यह काम एक तरफ | डाकयार्ड के सारे कामगार जिंदगी भर आपको याद रखते |

६) भाषण के बाद लोगों से बातचीत के दौरान संजीव काले जी ने ईभारत का जिक्र किया कि कॉलोनी का ही कोई व्यक्ति उसे चला रहा है |
काले जी कोई एक व्यक्ति नहीं – दर्जनों लोग ईभारत को समर्थन और जानकारी दे रहे हैं | याद रखीये, घर का भेदी ही लंका ढाता है | नेवल डाकयार्ड प्रशासन और उनके चमचों ने लोगों को जो सताया है, उसका नतीजा भुगतना तो पडेगा ही न | भले आप लोगों के भ्रष्टाचार के लिए सीधे सजा न मिले पर मैं यह सुनिश्चित करूँगा कि समाज में जो छवि पुलिसवालों की है वही छवि नौसेना वालों की बन जाए | हर आता जाता व्यक्ति आप लोगों को हिकारत की नज़रों से देखेगा | आपको लगता है कि आप नौसेना वाले गोरे अंग्रेज और हम सिविलियन्स काले भारतीय ? याद रखिये हम लोग ही वो नींव हैं जिनपर आपकी ईमारत टिकी है | जिस दिन यह नींव हिली न, उस दिन आपकी ईमारत को खँडहर बनने में देर नहीं लगेगी |

( वैसे मैं संजीव काले जी ( Rear Admiral Sanjeev Kale/ Admiral Superintendent Sanjeev Kale ) को ह्रदय से धन्यवाद दूँगा क्योंकि उनकी वजह से ईभारत मजबूत हुआ है | पिछले कुछ दिनों में उन्होंने कुछ ऐसा किया कि मुझसे कुछ नए लोग जुड़े | उनके पास नेवल डाकयार्ड प्रशासन के काले कारनामों की काफी जानकारी है पर वो आज तक मुझे सहयाग नहीं कर रहे थे | अब उन्होंने सहयोग का वचन दिया है | पाठक गण धमाकेदार खबरों के लिए तैयार रहें | )

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *